776 Views

ब्रिटिश राज  के  गवर्नर जनरल : लॉर्ड विलियम बेंटिक | Study Notes

Posted on : June 8th 2019, 11:42 pm

ब्रिटिश राज  के  गवर्नर जनरल : लॉर्ड विलियम बेंटिक

Dear Readers, ExamClear team here providing the important questions related to  Governor-General of India .All important questions related to viceory and Governor-General of India will be asked for 1 or 2 Marks in All Govt Job competitive exams like SSC, UPSC, Civil Services, RRB Railway Exams, and other Public Service Commission Exams.

लॉर्ड विलियम बेंटिक  

  • 1833 का चार्टर अधिनियम लॉर्ड विलियम बेंटिनक के समय के दौरान पारित किया गया था तदनुसार, कंपनी का एकाधिकार समाप्त कर दिया गया था। बंगाल के गवर्नर-जनरल भारत के गवर्नर-जनरल बने
  • बेंटिंक ने राजा राम मोहन राय(आधुनिक भारत के पिता)  के साथ मिलकर  1829 में बंगाल सती विनियमन पारित की।
  • बेंटिंक ने 1828 में बंगाल के गवर्नर-जनरल नियुक्त किए जाने से कुछ साल पहले हाउस ऑफ कॉमन्स में कार्य किया।
  • उनके प्रशासन के दौरान, सेना में वित्तीय छंटनी और एक आधुनिक सरकार के लिए सिविल सेवा को भारत लाया गया। न्यायिक सुधारों के रूप में उसने इस बात को संभव बनाया की, कि ज्यादा भारतीय मजिस्ट्रेटों और न्यायाधीशों के रूप में सेवा कर सकें
  • बेंटिक के प्रशासन में एक और महत्वपूर्ण फैसला 1835 में किया गया की ब्रिटिश सरकार केवल उन उच्च शिक्षा के संस्थानों को समर्थन देगी, शिक्षा के माध्यम के रूप में केवल अंग्रेजी का इस्तेमाल किया है
  • 1835 ई. में ही बेंटिक ने कलकत्ता में ‘कलकत्ता मेडिकल कॉलेज’ की नींव रखी।
  • 1835 में किया गया की ब्रिटिश सरकार केवल उन उच्च शिक्षा के संस्थानों को समर्थन देगी, शिक्षा के माध्यम के रूप में केवल अंग्रेजी का इस्तेमाल किया है